लिंकेडीन कनेक्शन क्या है? लिंकेडीन द्वारा आसानी से नौकरी पायें

Linkedin एक ऐसा प्लेटफार्म है जहाँ पर सभी प्रोफेशनल्स आपको मिल जाते है। लिंकेडीन पर सभी कम्पनीज के एम्प्लोयी(employee) आपस में जुड़े होते है। आज बहुत से स्टूडेंट्स अपनी स्टडी कम्पलीट(study complete) करके घर बैठ जाते है उनको नौकरी नहीं मिल पाती या कुछ स्टूडेंट कंसल्टेंसी के पास जाकर नौकरी के लिए पैसे देते है पर उनको ये नहीं पता की लिंकेडीन सोशल मीडिया का ऐसा प्लेटफार्म है जहाँ पर वो रजिस्टर करके आसानी से नौकरी को पा सकते है।

पिछले आर्टिकल में मैंने बताया था कि लिंकेडीन पर अकाउंट कैसे बनाये और इसकी क्या क्या विशेषताएं है। उसे पढ़ने के लिए आपको पहले वाला आर्टिकल पढ़ना होगा।

आज मैं लिंकेडीन पर कनेक्शंस कैसे बनाये और कनेक्शन को कैसे कैसे उपयोग में ला सकते है। ये सब ट्रिक्स बताने वाला हूँ। आर्टिकल को पूरा पढ़ने के बाद अगर आपको लगता है कि मैं कुछ और ट्रिक्स के बारे में जनता हूँ तो आप कमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते है।

लिंकेडीन कनेक्शंस(Linkedin Connections):

लिंकेडीन कनेक्शन क्या है? क्या आप लिंकेडीन कनेक्शन के बारे में जानते है? लिंकेडीन कनेक्शंस बनाना जरुरी क्यों है?

ये सब बताने से पहले मैं अपना एक एक्सपीरियंस शेयर करना चाहुगा। मैंने लिंकेडीन को 2017 में शुरू किया था। मेरी ग्रेजुएशन 2016 में पूरी हुई थी। 1 साल तक मैं नौकरी की तलाश करता रहा पर मुझे नौकरी नहीं मिली फिर मुझे मेरे बड़े भाई ने मुझे लिंकेडीन के बारे में बताया तब मैंने उस पर अकाउंट बनाया।

उसके बाद भी मुझे कोई नौकरी की जानकारी नहीं मिली तब मैंने कनेक्शंस के बारे में पड़ा और पता चला की बिना कनेक्शन के आप लिंकेडीन पर नौकरी नहीं ले सकते। अब बात करते है कनेक्शन क्या है?

लिंकेडीन कनेक्शंस same फेसबुक फ्रेंड बनाने जैसा है उसमे आप फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते है पर इसमें आपको दुसरो के साथ कनेक्ट करना होता है। जैसे जैसे आपके कनेक्शन बढ़ते है आपकी प्रोफाइल दूसरे प्रोफेशनल्स(professionals) को भी दिखाई देने लगती है। इस तरह आपके कनेक्शन बनते जाते है।

अब आपके कनेक्शंस तो बन गए पर उन कनेक्शंस का करना क्या है?

ये कनेक्शंस आपको नौकरी दिलवाने में सहायता कर सकते है। इनको आप पर्सनल मैसेज भेज सकते है और एक अच्छा रिलेशन बना सकते है जो फ्यूचर(future) में आपको कही पर भी काम आ सकता है।

क्या आप जानते है कौन सा कनेक्शन आपके लिए सही है या नहीं?

वैसे तो अगर आप सिर्फ एक अच्छे रिलेशन बनाने के लिए कनेक्शंस बना रहे है तो आप किसी के साथ भी कनेक्ट हो सकते है। लेकिन अगर आप कोई नौकरी ढूंढ रहे है तो आप कम्पनीज की HR के साथ कनेक्शन बनाये। ऐसा करने से अगर उस कंपनी में कोई नौकरी निकलती है और वो पोस्ट करते है तो उनकी पोस्ट आपको दिख जाएगी और आप उनसे बात करके वहाँ इंटरव्यू देने जा सकते है।

इसी प्रकार अगर आप सिर्फ अपने फील्ड के प्रोफेशनल्स के साथ जुड़ना चाहते हो तो आप सिर्फ उनके साथ कनेक्ट कर सकते है।

क्या आप जानते है कनेक्शन कितने प्रकार के होते है?

कनेक्शंस ३ प्रकार के होते है।

फर्स्ट डिग्री

सेकंड डिग्री

थर्ड डिग्री

फर्स्ट डिग्री:- फर्स्ट डिग्री में अगर आप किसी को कनेक्ट के किये रिक्वेस्ट भेजते है तो वो आप आपकी रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर लेते है तो आपका उनके साथ फर्स्ट डिग्री का कनेक्शन है।

इसी तरह अगर आपके पास कोई कनेक्शन रिक्वेस्ट आती है तो आप एक्सेप्ट कर लेते है तो आपका उनके साथ फर्स्ट डिग्री कनेक्शन बन जाता है।

सेकंड डिग्री:- अब फर्स्ट कनेक्शन तो बन गया सेकंड डिग्री कनेक्शन कैसे बनेगा?

जैसे अब आपने एक कनेक्शन बना लिए अब आप उनके कनेक्शन ओपन करके उनके साथ कनेक्ट करते है तो वो आपका सेकंड डिग्री कनेक्शन होता है।

थर्ड डिग्री:- थर्ड डिग्री कनेक्शन में जब आप किसी सेकंड डिग्री कनेक्शन के कनेक्शंस के साथ कनेक्ट करते है तो वो आपका थर्ड डिग्री कनेक्शन होता है।

अगर कोई फर्स्ट, सेकंड, थर्ड डिग्री कनेक्शन के बारे में कुछ और जनता है तो आप कमेंट बॉक्स में जरूर बताये।

एवरेज लिंकेडीन कनेक्शंस(Avg. Linkedin Connections) कितने होने चाहिए:

ऐसा कुछ नहीं है कि आपको कितने कनेक्शंस बनाने ही है। आप अपने अनुसार कनेक्शंस को बना सकते है बस आपके कनेक्शंस आपके रेक्विरेमेंट(requirement) के अनुसार होने चाहिए।

फोर्बेस के अनुसार: Avg. Linkedin Connection

लिंकेडीन के अनुसार: Avg Linkedin Connection Per User

linkedingraph.png
Graph

अपने कनेक्शंस को बढ़ाया कैसे जाये:

अपने कनेक्शंस बढ़ाने के लिए आपको अपनी जरुरत के अकॉर्डिंग प्रोफेशनल्स(according professionals) से कनेक्ट होना है और उनके साथ अच्छे रिलेशन्स बनाने है। इस तरह से आप अपने अच्छे कनेक्शंस(connections) बना सकते है।

आप में से कोई बता सकता है कि आपके कनेक्शंस किसी को दिखा दे रहे है या नहीं ?

बहुत से लोग ऐसे है जो अपने कनेक्शंस किसी को दिखाना नहीं चाहते। तो कनेक्शन नाह दिखे इसके लिए क्या करे? आओ देखते है हम अपने कनेक्शंस को कैसे हाईड कर सकते है?

1. सबसे पहले आपको अपना लिंकेडीन अकाउंट लॉगिन(Linkedin account login) करना है।

2. लॉगिन के बाद आपको ME पर क्लिक करना है।

3. इसके बाद आपको सेटिंग्स एंड प्राइवेसी(settings and privacy) पर क्लिक करना है।

linkedinsetting.png
Linkedin profile

4. अब हु कैन सी योर कनेक्शंस(who can see your connection) पर क्लिक करना है।

linkedinsetting1.png
लिंकेडीन कनैक्शन

5. योर कनेक्शंस(your connection) पर क्लिक करने पर आपको ओनली यू(only you) पर क्लिक करना है।

linkedinsetting2.png
Linkedin connection

निष्कर्ष:-

अब आपको पता लग हे गया होगा कि लिंकेडीन नौकरी पाने के लिए बहुत अच्छा प्लेटफार्म है। लिंकेडीन पर आप अपने कनेक्शंस के जरिये नौकरी को आसानी से पा सकते है। लिंकेडीन का उपयोग करके आप नई टेक्नोलॉजी से भी अपडेट रह सकते है। आपको मैंने इसमें कनेक्शंस के बारे में बताया है। अगर आपको कनेक्शंस के बारे में और भी कुछ जानना है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। हमारी टीम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *