Difference Between JPG JPEG And PNG In Hindi

आप सब images का प्रयोग तो करते ही होंगे जैसे Whatsapp, Facebook और किसी भी अन्य प्लैटफ़ार्म पर। लेकिन क्या आप जानते है कि images के भी बहुत सारे format होते है जैसे कि jpg, jpeg, png, BMP, GIF आदि। ये सब images की extensions होती है जिसका हम अलग अलग जगह पर इस्तेमाल करते है। हर extension की अपनी एक स्पैशलिटी होती है। पर हम सबसे ज्यादा JPG, JPEG, PNG और GIF का सबसे ज्यादा इस्तेमाल करते है। पर बहुत से इनका प्रयोग तो करते है पर इनका मतलब नहीं जानते तो आज हम images की टाइप्स की ही बात करने वाले है जैसे कि JPG full form, JPEG Full Form, PNG full form और GIF full form और difference between JPG JPEG and PNG in Hindi और इन सबका कहाँ कहाँ उपयोग कर सकते हैं। तो आइए चलते है एक एक करके सबके बारे मे पढ़ते है।

Difference Between JPG JPEG And PNG:

JPEG In Hindi (JPEG इन हिन्दी):

JPEG Full Form in Hindi: Joint Photography Experts Group

आपको बता दूँ कि JPEG 24 bit प्रति pixel को सपोर्ट करता है। इसमे कलर फ़ारमैट को बनाने के लिए 8 bit brightness, blue और red के लिए होती है और 16 लाख से भी आधिक कलर को डिस्प्ले करती है।

JPEG image का प्रयोग आप नेचरल आर्टवर्क और रेयलिस्टिक इमेजिस के लिए कर सकते है।

लेकिन आज टेकनोंलॉजी और भी एडवांस हो चुकी है आज JPEG 16 मिलियन कलर को सपोर्ट करता है और सबसे अच्छी गुणवत्ता वाली इमेज बना सकता है।

Disadvantages of JPEG:

इसमे कंप्रेशन मेथड होता है जो इमेज के लिए हानिकारक होती है जैसे यदि आप किसी भी इमेज को कोम्प्रेस्स करते है तो वह इमेज आपको आरिजिनल इमेज की तरह नहीं मिलती आप उसकी क्वालिटी और शार्पनेस्स खो देते है।

JPEG सिम्पल कार्टून, सिम्पल ग्राफिक और लाइन ड्राइंग पर काम नहीं करता है।

JPEG एनीमेशन और ट्रांस्परेंट को सपोर्ट नही करता।

GIF In Hindi:

GIF Full Form In Hindi: Graphics Interchange Format

GIF एक बिट्मैप इमेज फ़ॉर्मेट है जिसे 1987 मे बनाया गया था। GIF को इस तरीके से बनाया गया कि यह स्लो कनैक्शन पर भी ट्रान्सफर हो सकें।

GIF मे 256 कलर सपोर्ट करने की क्षमता होती है क्योंकि यह 8 बिट format है। इसमे इतने कम कलर सपोर्ट करते है इसलिए GIF का आकार छोटा होता है और साइज़ मे भी कम होता है।

GIF Advantages:

GIF उन इमेज के लिए बेहतर है जिसमे हमे छोटे साइज़ की इमेज चाहिए होती है जैसे कि लोगो, लाईन ड्राइंग और अन्य सिम्पल इमेज आदि।

हम अपनी वैबसाइट के लिए भी GIF इमेज का ही इतेमाल करते है। हम वैबसाइट पर लगने वाले बैनर के लिए भी GIF का ही प्रयोग करते है।

GIF का सबसे ज्यादा और बड़िया इस्तेमाल हम छोटे एनिमेशन और लो क्वालिटी फिल्म क्लिप के लिए होता है।

GIF ट्रांस्परेंट background को सपोर्ट करती है। transparent background का मतलब है कि आप इमेज के पीछे कुछ भी लगा सकते हैं।

PNG In Hindi:

PNG Full Form In Hindi: Portable Network Graphics

आज के समय मे हम PNG का सबसे ज्यादा प्रयोग करते है। क्योंकि यह दोषरहित इमेज compression को सपोर्ट करता है। PNG भी ठीक GIF की ही तरह 8 बिट को ही सपोर्ट करता है। और यह 24 बिट कलर RGB को भी सपोर्ट करता है।

PNG Advantages:

यदि आप PNG को कोम्प्रेस्स करते है तो इसकी क्वालिटी पर किसी भी तरह का कोई फरक नहीं पड़ता।

PNG दो तरह की transparency को सपोर्ट करता है इसलिए यह GIF से भी कही बेहतर इमेज है।

JPEG, PNG, JPG और GIF का प्रयोग कहाँ करें:

सभी इमेज का प्रयोग आपको उसकी क्वालिटी के हिसाब से ही करना चाहिए।

JPG का प्रयोग आप फोटोग्राफ्स, प्राकृतिक आर्टवर्क, और रीयलिस्टिक इेमेज के लिए कर सकते हैं।

जब भी आपको कम साइज़ वाली इमेज की आवशकता होती है तब आप GIF का प्रयोग करें तो बेहतर रहेगा। इसका प्रयोग आप ड्राइंग और एनिमेशन के लिए भी कर सकते हैं।

यदि आपको ट्रांस्परेंट ही इमेज चाहिए तो आपके लिए PNG सबसे बेहतर इमेज format है।

इस तरह आप अपने इमेज की रिक्वाइरमेंट के हिसाब से प्रयोग कर सकते है।

ये जरूर पढे:  बच्चे online कैसे कमाए

निष्कर्ष:

आज मैंने आपको इस लेख मे difference between JPG JPEG and PNG के बारे मे बताया है और साथ साथ हमने JPG full form, JPEG Full Form, PNG full form और GIF full form के बारे मे भी पढ़ा है। आशा करता हूँ कि अब आप इसे पढ़ने के बाद कभी नहीं भूलेंगे। और इमेज का सही इस्तेमाल करेंगे। अगर आपको यह पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *